RJD की खुली चुनौती, टूट रहा JDU बचा सको तो बचा लो

RJD की खुली चुनौती, टूट रहा JDU बचा सको तो बचा लो

जनता दल के टूटने की खबर जिस दिन से राजद नेता श्याम रजक ने की है तब से दोनों दलों के बीच बयानबाजी जारी है. इसी बीच राजद ने चुनौती देते हुए कहा है कि जनता दल युनाइटेड अपने विधायकों को रोक सके तो रोक ले. जदयू में टूट तय है.

JDU की कमान संभालते ही RCP ने BJP को ललकारा

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पार्टी के सहयोगी और पूर्व मंत्री श्याम रजक के बयान से आगे बढ़ते हुए न्यूज चैनल आजतक से बातचीत में कहा कि जेडीयू में टूट होना तय है और पार्टी के विधायक जल्द ही पार्टी छोड़कर राजद में शामिल होंगे। तिवारी ने चुनौती देते हुए कहा कि जदयू में टूट होना तय है, पार्टी अपने विधायकों को बचा सकती है तो बचा ले।

मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार में आरजेडी के 5 एमएलसी को तोड़ा था, जिसका बदला बीजेपी ने अरुणाचल में ले लिया। जदयू अब बचने वाली नहीं है। जदयू में टूट होना तय है.

दर असल जनता दल यू के अरुणाचल प्रेदश के छह विधायकों के टूट कर भाजपा में शामिल होने के बाद सियासी सर्गर्मी तेज हो गयी है.

इसस पहले राजद नेता श्याम रजक ने दावा किया था कि जदयू के 17 विधायक उनके दल के समपर्क में हैं. उन्होंने कहा था कि केवल हम इस बात का इंतजार कर रहें हैं कि जदयू के नाराज विधायकों की संख्या बढ़ कर 28 हो ताकि दल बदल कानून के तहत उनकी विधायकी न जाये.

हालांकि ऐसे बयानों पर जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने चुसकी ली और कहा है कि वे सपना देख रहे हैं.

हालांकि नीतीश कुमार ने इस दावे को बेबुनयाद बताया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*