बिहार विधान मंडल में रालोसपा का अस्तित्‍व समाप्‍त

लोकसभा चुनाव में रालोसपा के ज़ीरो पर आउट होने के बाद इसके दो विधायक और एक विधान परिषद के सदस्य के आज औपचारिक रूप से सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के घटक जनता दल यूनाइटेड में शामिल होने से अब बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों में भी रालोसपा की संख्या शून्य हो गई है।

बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने रालोसपा के चिनारी से विधायक ललन पासवान और हरलाखी से विधायक सुधांशु शेखर को जदयू में विधिवत शामिल होने से संबंधित अधिसूचना जारी कर दी। इन दोनों विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष जदयू में शामिल होने की पूर्व में अर्जी दी थी। अब रालोसपा का कोई भी विधायक विधानसभा में नहीं रह गया है।

वहीं, विधान परिषद में रालोसपा के एकमात्र सदस्य संजीव श्याम सिंह भी जदयू में शामिल हो गए। श्री सिंह ने भी विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारून रशीद के समक्ष जदयू में शामिल होने की अर्जी दी थी, जिसे स्वीकार करते हुए आज अधिसूचना जारी कर दी गई।

उल्लेखनीय है कि रालोसपा अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा के राजग से नाता तोड़ने के बाद पार्टी के दोनों विधायक एवं विधान पार्षद ने एक अलग गुट बना लिया था, जिसके सदन में रालोसपा से अलग बैठने की व्यवस्था भी की गई थी। लोकसभा चुनाव में रालोसपा के करारी हार के बाद इन दो विधायक और विधान पार्षद का जदयू में विलय हो गया। अब यह दोनों विधायक और विधान पार्षद विधानसभा एवं विधान परिषद में जदयू के सदस्यों के साथ ही बैठेंगे।

रालोसपा के दो विधायकों के जदयू में शामिल होने के बाद विधानसभा में अब जदयू के विधायकों की कुल संख्या बढ़कर 73 हो गई है। इसी तरह विधान पार्षद श्री सिंह के जदयू में शामिल होने के बाद विधान परिषद में अब जदयू के कुल सदस्यों की संख्या बढ़कर अब 33 हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*