संसद : अब नहीं ला सकते तख्तियां, LS में कांग्रेस के 4 सदस्य सस्पेंड

संसद : अब नहीं ला सकते तख्तियां, LS में कांग्रेस के 4 सदस्य सस्पेंड

लोस अध्यक्ष ने कहा- तख्ती की इजाजत नहीं। कांग्रेस के 4 सस्पेंड। निलंबित सांसद ने कहा-सदन में केवल मोदी-मोदी कहने की इजाजत। हम महंगाई पर लड़ते रहेंगे।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने साफ कह दिया कि सदन के भीतर नारे लिखी तख्ती वेकर कोई सदस्य को प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। इसी बीच लोकसभा में आज कांग्रेस के चार सदस्यों को भीतर तख्ती ले जाने के कारण पूरे सत्र के लिए सस्पेंड कर दिया गया। कांग्रेस के ये सांसद महंगाई के खिलाफ नारे लिखी तख्ती (placards) लेकर भीतर गए थे।

कांग्रेस के जिन सदस्यों को पूरे सत्र के लिए बाहर किया गया, वे हैं मानिक राम टैगोर, जोथीमनी, राम्या हरिदास और टीएन प्रथापन। सदन का मॉनसून सत्र 12 अगस्त को समाप्त होगा। इसका अर्थ है कि वे 12 अगस्त तक सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले सकेंगे। सदन से सस्पेंड किए जाने के बाद चारों सांसद संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के निकट पहुंचे और वहां उन्हीं तख्तियों के साथ प्रदर्शन करके अपना विरोध जताया। कांग्रेस ने इस पर कड़ा प्रतिवाद जताया है और कहा कि उनके सदस्यों को महंगाई के खिलाफ बोलने से रोका जा रहा है। टीएमसी और आप सहित सारा विपक्ष महंगाी पर चर्चा की मांग कर रहा है, पर सरकार चर्चा को तैयार नहीं है। मानिक राम टैगोर ने कहा कि संसद में केवल मोदी-मोदी कहने की इजाजत रह गई है. हम महंगाई पर अपना विरोध जताते रहेंगे।

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि कोई भी सदस्य जो तख्ती लेकर सदन में आना चाहेंगे, उन्हें इजाजत नहीं दी जाएगी। यह लोकतंत्र का मंदिर है। सदस्यों की जिम्मेदारी है कि वे सदन की गरिमा बनाए रखें।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रीया श्रीनेत ने कहा-स्पीकर सर, यह आप पर निर्भर है कि लोकतंत्र का यह मंदिर मूकदर्शक न बना रहे, क्योंकि पूरे देश में लोकतंत्र को कुचला जा रहा है। कांग्रेस ने प्रतिवाद किया है, पर देखना है कि वे इस मुद्दे पर आगे क्या करते हैं।

ऐतिहासिक होगी प्रशांत किशोर की पदयात्रा, अबतक किसी ने नहीं की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*