मुंगेर प्रमंडल के इतिहास में नया अध्याय: जमुई में शुरू हो रहा है पहला अल्पसंख्यक डिग्री कॉलेज

मुंगेर प्रमंडल के शिक्ष के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ सकता है. प्रमंडल के जमुई में SHAH JUBAIR MEMORIAL DEGREE COLLEGE को मौलाना मजहरुल हक युनिवर्सिटी से  एफेलिएशन मिलने की संभवाना है.

Shah jubair memorial Trust

Shah Jubair Memorial Degree College, Jamui

पिछले दिनों मौलाना मजहरुल हक यूनिवर्सिटी, पटना के उच्च स्तारिए टीम के द्वारा SHAH JUBAIR MEMORIAL DEGREE COLLEGE आढा (जमुई) का निरीक्षण किया गया. कालेज प्रबंधन ने जिस तरह की तैयारियां की हैं वह अपने आप में अनुठा है. ग्यारह एकड़ भूभाग में फैले इस कालेज की अपनी शानदार बिल्डिंग की तैयारी अंतिम चरण में है. प्रबंधन का कहना है कि इस कालेज को शिक्षा के तमाम आधुनिक संसाधनों से सुसज्जित किया जा रहा है.

क्षेत्र में जगी शिक्षा की उम्मीद

इस आधार पर माना जा रहा है कि मौलाना मजहरुल हक अरबी परसियन विश्वविद्यालय की निरीक्षण कमेटी जल्द ही अपने सिनेट की बैठक के बाद इसे मंजूरी दे देगी.अगर इस कॉलेज को मान्यता मिल गयी तो समूचे मुंगेर प्रमंडल में यह पहला अल्पसंख्यक डिग्री कालेज होगा.

SHAH JUBAIR MEMORIAL DEGREE COLLEGE

शाह जुबैर मेमोरियल डिग्री कालेज के इंस्पेक्शन के लिए आये अधिकारी

गौरतलब है कि शाह जुबैर मेमोरियल डिग्री कॉलेज का संचालन शाह जुबैर मेमोरियल ट्रस्ट कर रहा है. इसके उपाध्यक्ष फैसल सुलतान शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव के सपने के साथ काम कर रहे हैं. लगभग दो दशक तक अनेक मल्टिनेशनल कम्पनियों से जुड़े रहे फैसल बताते हैं कि जमुई एक पिछड़ा  इलाका है. यहां शिक्षा का स्तर आज भी बहुत कम है और उच्च शिक्षण संस्थाओं की काफी कमी है. फैसल बताते हैं कि उनका लक्ष्य है कि इस क्षेत्र में आधुकनिक व प्रोफेशनल कोर्सेज की शुरुआत करके छात्रों को रोजगार से जोड़ा जाये.

फैसल का प्रयास धीरे-धीरे रंग ला रहा है. एक तरफ जहां SHAH JUBAIR MEMORIAL DEGREE COLLEGE की भव्य इमारत का निर्माण जहां अंतिम चरण में है वहीं पिछले दिनों मौलाना मजहरुल हक युनिवर्सिटी की एफिलिएशन संबंधी उच्चस्तरीय टीम निरीक्षण के लिए आई थी. इस टीम में यूनिवर्सिटी के प्रो वाईस चांसलर प्रोफेसर श्री सैय्यद रफीक आज़म, यूनिवर्सिटी सिंडिकेट के मेम्बर श्री सैय्यद शमाएल अहमद, कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स, पटना के हेड ऑफ़ डिपार्टमेंट प्रोफेसर श्री मोहम्मद इम्तेयाज़ हसन एवं यूनिवर्सिटी के डेवलपमेंट ऑफिसर डॉ श्री इनाम ज़फर शामिल थे. उच्च स्तरिय टीम ने कॉलेज के लाइब्रेरी, ११ एकड़ कॉलेज के ज़मीन, क्लास रूम, एवं नव निर्मित बिल्डिंग का निरीक्षण किया और ज़रूरी कागज़ात देखे!

इस दौरान इंतेजामिया कमिटी (शाह जुबैर ट्रस्ट, आढा, जमुई) सदर- डॉ सोहेल अहमद, सेक्रेटरी- रेहान तारिक सुल्तान, नायब सदर – फैसल सुल्तान, एक्सक्यूटिव मेम्बर डॉ गजाली अनवर हेलाल, मेम्बर – श्री अंजार मलिक, मेम्बर – श्री फखरुद्दीन एवं कॉलेज के प्रिंसिपल श्री शैख़ मोहम्मद जहाँगीर मौजूद थे.

MEMBER OF SHAH JUBAIR MEMORIAL TRUST

शाह जुबैर मेमोरियल ट्रस्ट के सदस्य

प्रो वाईस चांसलर प्रोफेसर श्री सैय्यद रफीक आज़म, ने हमारे संवाददाता को बताया कि निरीक्षण के दौरान जो हमने पाया उसी के आधार पर फैसला लिया जायेगा. और इस सिलसिले में अंतिम निर्णय सिंडीकेट के मिटिंग में ले लिया जायेगा !

श्री सैय्यद शमाएल अहमद, सिंडीकेट मेम्बर ने कहा की मौलाना मजहरुल हक यूनिवर्सिटी , पटना में मंजूरी के लिये जो कागज़ात पेश किये गए थे उनकी रौशनी में शाह जुबैर मेमोरियल डिग्री कॉलेज का निरीक्षण किया गया. उन्होंने कहा कि सिंडिकेट के मीटिंग में इस मामले में फैसला लिया जायेगा.

इस मौके पर मो एखलाक, डायरेक्टर गुरुकुल स्कूल आढा (जमुई), शैख़ मोहम्मद सैदानी, मोहम्मद नजीब अहमद मलिक – आढा, मास्टर मोहम्मद हफिज उर रहमान, मोहम्मद अशरफ खान – जमुई एवं सुन्नी ओलमा बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी मौलाना जैयद रसूल गफ्फारी समेत अनेक लोग मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*