Tractor Parade कहीं हिंसक हुई पुलिस, कहीं किसानों का उत्पात

Tractor Parade कहीं हिंसक हुई पुलिस, कहीं किसानों का उत्पात

गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ‘ट्रैक्टर परेड’ ( Tractor Parade) निकाल रहे प्रदर्शनकारी किसानों पर कहीं पुलिस ने लाठी बरसाये तो कहीं खुद किसान भी तोड़फोड़ पर उतारू दिखे.

 सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर समेत सभी जगहों पर पुलिस के बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली की सीमाओं में दाखिल हुए किसान लाल किले में भी घुसे. वहीं कई जगहों पर पुलिस ने शांतिपूर्ण मार्च कर रहे किसानों पर लाठिया चटकाईं.

ट्रैक्टर परेड के बाद संसद चलो, केंद्र की सांसें अटकाएंगे किसान

इस बीच किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहे योगेंद्र यादव ने विडियो जारी कर के किसानों से अपील की है कि किसानों के आंदोलन की असल शक्ति शांति में है. अगर हम ने शांति भंग की तो हमारा आंदोलन कमजोर पड़ेगा. संयुक्त किसान मोर्चा ने अपील की है कि हिंसा से बचें और निर्धारित रूट पर ही किसान मार्च करें.

उधर खबरों में बताया गया है कि लाल किला में भी किसान दाखिल हो गये और वहां अपना झंडा फहराया.

वहीं आईटीओ पर पुलिस मुख्यालय के सामने पुलिस और किसानों में झड़प हुई है. इस दौरान एक किसान की मौत होने की भी खबर है। मृतक किसान नवनीत सिंह उत्तराखंड का रहने वाला था।

वहीं एएनआई न्यूज एजेंसी ने एक विडियो जारी किया है जिसमें बताया गया है कि किसानों ने पुलिस कर्मियों के पीछे ट्रैक्टर दौड़ा दिया. बाद में पुलिस ने उन पर लाठियों की बरसात कर दी.

बेकाबू होते किसानों को रोकने के लिए पुलिस द्वार किसानों को काबू करने के लिए जहां संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में आंसू गैस छोड़ी गई वहीं गाजीपुर में लाठीचार्ज किया गया।

गौरतलब है कि तीन विवादित कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संघों ने कहा था कि उनकी परेड मध्य दिल्ली में प्रवेश नहीं करेगी और यह गणतंत्र दिवस पर होने वाली आधिकारिक परेड के समापन के बाद ही शुरू होगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*