न्‍यू इंडिया के सपने को साकार करने में प्रशिक्षु आईएएस दे अपना योगदान : गृह मंत्री

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने युवा आईएएस प्रशिक्षुओं का आह्वान किया है कि वे प्रधानमंत्री के न्यू इंडिया के सपने को साकार करने के लिए अपना योगदान दें. उत्तराखंड के मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में 92वें स्थापना पाठ्यक्रम के अधिकारी प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए उऩ्होंने कहा कि ‘आपको लोगों की सहायता के लिए कठिन कार्य करना है. आपको अपने कठिन परिश्रम के जरिए लोगों के बीच विश्वास की भावना पैदा करनी है.‘

नौकरशाही डेस्‍क

राजनाथ सिंह ने कहा कि अधिकारियों को लोगों के साथ सहानुभूति से पेश आना चाहिए, जो उनके पास अपनी समस्याओं को लेकर आते हैं. ईश्वर ने उन्हें मानवता और देश के सामान्य नागरिकों की सेवा का सुअवसर दिया है. आपको लोगों की समस्याओं को टालना नहीं चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि आपका दृष्टिकोण व्यक्तिगत नहीं होना चाहिए, बल्कि हमेशा प्रणाली आधारित होना चाहिए.

युवा आईएएस अधिकारियों को सतर्क करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि ‘उऩ्हें अपने अहम को टालना चाहिए, क्योंकि अहम दशमलव अंक के समान है, जिसे यदि अंक से पूर्व लगा दिया जाए तो अंक का मूल्य घट जाता है.‘ उन्होंने युवा अधिकारियों को प्रेरित करते हुए कहा कि ‘आपको उच्च नैतिक मूल्यों के प्रति प्रतिबद्ध रहना चाहिए और आदर्श बनना चाहिए, लोग आपका अनुकरण कर सकें. आप दूसरों के लिए तभी अनुकरणीय बन पाएंगे, जब आप उच्च नैतिक मूल्यों के प्रति दृढ़ रहेंगे. आपको सार्वजनिक जीवन में हमेशा सतर्क रहना चाहिए.‘ बाद में उन्होंने प्रशिक्षुओं को उज्जवल भविष्य और सफल कैरियर की शुभकामनाएं दी।

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*