बढ़ रहे सेक्सटार्शन के केस, ऑनलाइन सेक्स के नाम पर ठगी का खेल

बढ़ रहे सेक्सटार्शन के केस, ऑनलाइन सेक्स के नाम पर ठगी का खेल

एक्सटॉर्शन का आतंक जारी है, इस बीच सेक्सटॉर्शन का खेल शुरू हो गया। ऑनलाइन सेक्स के नाम पर ठगी अब महानगरों से बिहार के गांव-कस्बों में पहुंचा। बच के रहिए।

प्रशांत कुमार

त्रिवेणीगंज (सुपौल)। आपने एक्सटॉर्शन यानी जबरन वसूली के बारे में तो सुना होगा, जो एक जमाने में ठगी करने का एक तरीका हुआ करता था। अब साइबर ठग आ गए हैं जो सेक्सटॉर्शन कर लोगों से पैसे ऐंठ रहे हैं। आजकल साइबर ठग लोगों से सेक्सुअल ब्लैकमेलिंग यानी सेक्सटॉर्शन से वसूली कर रहे हैं। पहले यह ट्रेंड अमेरिका और यूरोप जैसे देशों में देखने को मिला था, लेकिन अब यह भारत के छोटे-छोटे गांवों और कस्बो में भी हो रहा है। आजकल ऐसे कई गिरोह सक्रिय हैं, जो सोशल साइट्स पर लड़कियों के नाम से पहले आपसे दोस्ती करते हैं और फिर आपको परेशान कर आपसे वसूली करना शुरू कर देते हैं। क्षेत्र में इन दिनों दर्जन भर ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें ऐसे ऑनलाइन ठगों ने अपना जाल बिछाकर कई युवाओं से ऑनलाइन चेटिंग और ऑनलाइन सेक्स के नाम ठगी करने की कोशिश की है। मगर अपनी समझदारी से कुछ लोग तो बच गए हैं, मगर कुछ लोग उनकी जाल में फंस चुके हैं। उनसे अब तक लाखों रुपए की ठगी भी हो चुकी है। इस ऑनलाइन सेक्स में व्यक्ति से कई बार पैसा मांगा जाता है। जब व्यक्ति रोज-रोज के नाटक से परेशान हो जाता है, तो आत्महत्या जैसा कदम उठाने को मजबूर हो जाता है।

ऐसे होता है यह पूरा खेल

एक्सटॉर्शन के शिकार कई लोगों ने बताया कि ये ठग आपको फेसबुक के जरिए फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते है, फिर आपने फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट की तो आपको वही लड़की फेसबुक पर मैसेज करेगी। आपसे व्हाट्सएप नम्बर मांगे जाएंगे। उसके बाद फेसबुक मैसेंजर पर आपके उसी फेसबुक गर्ल फ्रेंड का फोन आएगा और आपके सामने से एक अश्लील वीडियो चलेगा। उसी दौरान आपको दिखाए जा रहे उस अश्लील वीडियो को देखते हुए आपको निहायती अय्याश साबित करने के लिए सामने वाला स्क्रीन रिकॉर्डर से आपका वीडियो बना लेगा।

वीडियो बनाने के बाद करते हैं रकम की डिमांड

वीडियो बनाने के बाद इस वीडियो को आपके पास भेजा जाएगा। फिर आपसे बड़े अमाउंट की डिमांड की जाएगी। अगर आपने उसके बताए खाता नम्बर पर उसके द्वारा मांगी गई राशि नहीं भेजी या भेज भी दी, तो यह गिरोह आपके फेसबुक के जरिये आपके दोस्तों की जानकारी निकाल कर उनके फेसबुक मैसेंजर पर वही वीडियो भेज देगा। उसके बाद आप मानसिक तनाव के शिकार होंगे।

सावधानी से चलाएं फेसबुक इस मामलों में

फेसबुक के जरिये आने वाली ऐसी किसी भी फ्रेंड रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट करने से पहले देख लें कि क्या यह व्यक्ति जिसे हम फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज रहे हैं, उसे हम अच्छी तरह से जानते हैं। अगर नहीं जानते हैं तो फेसबुक पर अनजान व्यक्ति आपको मैसेंजर पर फेसबुक वीडियो कॉल करता है तो कृपया कॉल रिसीव न करें। ऐसे किसी वारदात के शिकार होने पर पुलिस को सूचना अवश्य दें।
एक्सटॉर्शन से बचने का तरीका किसी अंजान व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट न करें। अगर आप किसी को नहीं जानते हैं तो उसके साथ वीडियो कॉल के माध्यम से न जुड़ें। कभी भी ब्लैकमेलिंग करने वाले व्यक्ति को किसी तरह का भुगतान न करें। ऐसे किसी भी मामले में तुरंत ही साइबर पुलिस के समक्ष अपनी शिकायत दर्ज करवाएं।

जिनके लिए आपने की दुआ, अब वो दे रहे आपको बकरीद की दुआएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*