नशे में थे BJP MLC, दूसरी कार में टक्कर, पुलिस ने किया रफा-दफा!

नशे में थे BJP MLC, दूसरी कार में टक्कर, पुलिस ने किया रफा-दफा!

क्या तीन महीने पहले शराबबंदी कानून को ढीला करने से शराब पीने वालों का मन बढ़ा है? पटना में एक BJP MLC शराब के नशे में थे। लेकिन बच गए…।

प्रतीकात्मक फोटो

दीपक कुमार, बिहार ब्यूरोचीफ

बिहार सरकार ने तीन महीने पहले शराबबंदी कानून में संशोधन किया, जिसके अनुसार नशे में होने पर किसी को जेल नहीं भेजा जाएगा, बल्कि जुर्माना ले कर छोड़ दिया जाएगा। इस संशोधन का क्या असर पड़ा है, सरकार ने कोई जानकारी नहीं दी है। इस बीच कल देर रात पटना में एक भाजपा एमएलसी की कार एक दूसरी कार से भिड़ गई। दूसरी कार में कई युवक थे। वे कार से उतर कर भाजपा एमएलसी से बकझक करने लगे। तभी उन्होंने महसूस किया कि एमएलसी शराब के नशे में हैं। जब लड़कों ने उनके नशे में होने पर सवाल किया, तो एमएलसी बिगड़ गए। तभी एक युवक वीडियो बनाने लगा। कैंरा देककर एमएलसी के होश उड़ गए। फिर तो वे बार-बार माफी मांगने लगे। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। हालांकि इसकी सत्यता की पुष्टि नौकरशाही मीडिया नहीं करता है।

इस बीच राजद ने घटना का वीडियो जारी करते हुए भाजपा एमएलसी का नाम भी बता दिया। देखिए राजद ने क्या कहा-

हंगामा बढ़ा, तो पुलिस भी पहुंच गई। भाजपा एमएलसी ने कई प्रभावशाली नेताओं को फोन किया। पुलिस पर आरोप है कि उसने भाजपा एमएलसी का नाम नहीं आने दिया। पुलिस ने मीडिया के सामने जानकारी साझा की, पर एमएलसी का नाम हटा दिया।

खास बात यह है कि हाल में BJP के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बिहार में शराबबंदी कानून को फेल बताया था। उन्होंने बिहार पुलिस की भूमिका पर भी कई गंभीर सवाल खड़े किए थे। इसके बाद जदयू के बड़े नेताओं ने भाजपा अध्यक्ष के आरोप का कड़ा विरोध किया था। भाजपा के दूसरे नेता भी समय-समय पर शराबबंदी कानून को पूरी तरह फेल बताते रहे हैं और पुलिस की मिली भगत का आरोप लगाते रहे हैं।

बढ़ रहे सेक्सटार्शन के केस, ऑनलाइन सेक्स के नाम पर ठगी का खेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*