हिंदू योद्धा संगठन ने मस्जिद में फेंका मांस, दंगे की साजिश विफल

हिंदू योद्धा संगठन ने मस्जिद में फेंका मांस, दंगे की साजिश विफल

अयोध्या में दंगे की बड़ी साजिश विफल हो गई। हिंदू योद्धा संगठन ने मस्जिद में फेंका मांस और धार्मिक पुस्तक। सीसीटीवी कैमरे से हुआ खुलासा।

मस्जिद और मंदिर में जानवर का मांस या जानवर के शरीर का हिस्सा, धार्मिक पुस्तक फेंक कर हिंदू-मुस्लिम को लड़ा देने, दंगा करा देने की साजिश का तरीका बहुत पुराना है। आजादी से पहले और उसके बाद इस तरीके का कई बार इस्तेमाल हो चुका है। इस पुराने तरीके का इस्तेमाल एक बार फिर अयोध्या में किया गया। यहां हिंदू योद्धा संगठन ने मुस्लिमों की खास टोपी पहन कर मस्जिद में मांस के टुकड़े फेंके तथा धार्मिक पुस्तक भी फेंकी। सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि ये टोपी पहने लोग मांस फेंक कर भाग रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें महेश मिश्रा (मास्टरमाइंड), प्रत्यूष कुमार, नितिन कुमार, दीपक गौड़, ब्रजेश पांडे, शत्रुघ्न व विमल पांडेय शामिल हैं।

पत्रकार शकील अख्तर ने कहा-भीष्म साहनी ने अपने उपन्यास तमस में इस पर साफ लिखा था कि किस तरह धर्मस्थल में चीजें फेंककर दंगे कराए जाते हैं। हमारे यहां लोग पढ़ते तो कम हैं तो उनके लिखे पर खास प्रतिक्रिया नहीं हुई। मगर जब दूरदर्शन पर गोविंद निहलानी ने तमस धारावाहिक बनाया तो संघ परिवार ने इसका बहुत विरोध किया।

ट्विटर पर सुशील कुमार ने कहा- ऐसा ही विभूति नारायण राय ने भी लिखा है। मंदिर के आगे गोमांस, मस्जिद के आगे सूअर का मांस फेंकना, मस्जिद की मीनार पर पाकिस्तान का झंडा लगाना। सुनियोजित तरीके से दंगे कराने की ट्रेनिंग शाखा में दी जाती है।

हिंदू राष्ट्र बनाने का नारा देनेवाले इन नफरती अपराधियों के खिलाफ सोशल मीडिया में लोग खूब लिख रहे हैं। पत्रकार साक्षी जोसी ने कहा-अक्सर दंगे भड़काने वाले गुट ऐसे ही करते हैं जिसके चपेट में मासूम लोग आ जाते हैं। बस अब बुलडोज़र बाबा अपना बुलडोज़र चलवा ही दें इनके घरों पर भी और UAPA ज़रूर लगाएं।

नेपाल में आर्थिक संकट, ताश के पत्ते की आयात पर 100 करोड़ खर्च

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*