IIM के 180 छात्रों ने PM को लिखा पत्र, कहा, आपकी चुप्पी खतरनाक

IIM के 180 छात्रों ने PM को लिखा पत्र, कहा, आपकी चुप्पी खतरनाक

देश के श्रेष्ठ संस्थानों में शामिल IIM बेंगलुरु और अहमदाबाद के 180 स्टूडेंट्स ने PM को लिखा पत्र। कहा, आपकी चुप्पी से देश में बन रहा भय का माहौल।

पूरे देश में जैसे लगता है नफरत की आंधी आई है। रोज कोई वीडियो ऐसा आता है, जिसमें अल्पसंख्यकों के खिलाफ जहर उगले गए। देश का हर संवेदनशील नागरिक इससे चिंतित है। देश के सबसे अच्छे संस्थानों में शामिल आईआईएम बेंगलुरु और अहमदाबाद के 180 छात्र-छात्राओं और शिक्षकों ने प्रधानमंत्री को खुली चिट्ठी लिखी है। पत्र में कहा गया है कि देश में भय का वातावरण बन गया है। कभी मुस्लिमों के खिलाफ कोई अभियान चलता है, कभी चर्चों पर हमले हो रहे हैं। ऐसे समय में प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी के खुल कर इसके खिलाफ बोलना चाहिए।

पत्र में कहा गया है कि आज जो माहौल बनाया जा रहा है, उससे देश की बहुरंगी संस्कृति, बहुरंगी समाज की एकता को खतरा पैदा हो गया है। छात्रों ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि वे देश को अधिक सहिष्णु बनाने के लिए आगे बढ़कर नेतृत्व करें, देश की बहुसंस्कृति इतिहास और परंपरा की रक्षा हो सके। पत्र में कहा गया है कि नेताओं की जिम्मेदारी सिर्फ इतनी नहीं है कि वह नागरिकों के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा करें, बल्कि उनसे उम्मीद की जाती है कि वे आम जनता को इस बात के लिए प्रेरित करेंगे कि जनता अपने मतभेदों को भुलाकर आगे बढ़े।

छात्रों-शिक्षकों ने अपने पत्र में प्रधानमंत्री की लगातार चुप्पी पर भी अफसोस जाहिर किया है। कहा है कि प्रधानमंत्री की चुप्पी के कारण नफरत फैलानेवालों का मन बढ़ता है और वे पहले से अधिक नफरती माहौल बनाने में लग जाते हैं। इस पत्र को हिंदी अखबारों और चैनलों ने कोई जगह नहीं दी है, जबकि यह अत्यंत महत्वपूर्ण खबर है।

भाजपा की ‘नफरत की फैक्ट्री’ का पर्दाफाश, क्या है TEK FOG

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*