आयकर का ये कैसा ‘सर्वे’, मोबाइल- लैपटॉप का पूरा डेटा ले गए

आयकर का ये कैसा ‘सर्वे’, मोबाइल- लैपटॉप का पूरा डेटा ले गए

Newslaundry पर कल IT छापा पड़ा, जिसे ‘सर्वे’ कहा गया। 13 घंटे पत्रकारों को रोका। मोबाइल- लैपटॉप का पूरा डेटा ले गए। एडिटर्स गिल्ड ने पत्रकारिता पर हमला कहा।

NewsClick.in के दफ्तर पर इनकम टैक्स सर्वे खत्म हो गया है। न्यूज़क्लिक के संपादक प्रबीर पुरकायस्थ के चेहरे पर मुस्कान देखिये। आप इस आदमी को डरा पाओगे? कभी नहीं : अभिसार शर्मा, पत्रकार

कुमार अनिल

कल सरकार की कमजोरियों, भ्रष्टाचार को उजार करने वाले दो न्यूज पोर्टल न्यूजलॉन्ड्री और न्यूजक्लिक के दफ्तरों पर आयकर विभाग ने ‘सर्वे’ किया। आज न्यूजलॉन्ड्री के पत्रकार अभिनंदन शेखरी ने पूरी जानकारी दी। बताया कि किस प्रकार लगभग 13 घंटे तक आयकर अधिकारियों ने हमारे मोबाइल, लैपटॉप की जांच की और सारा डेटा डाउनलोड करके ले गए। शेखरी ने कहा कि हमने कुछ गलत नहीं किया, इसलिए हम डरनेवाले नहीं हैं। लेकिन मोबाइल का पूरा डेटा लेना हमारी निजता पर हमला है। जाहिर है, आम लोग जो इस पोर्टल को मदद करते हैं चाहे वह सूचना देने का हो या सब्सक्राइबर बनने का हो, लोग डरेंगे।

उधर, देशभर के संपादकों-पत्रकारों की संस्था एडिटर्स गिल्ड ने इस मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इसे पत्रकारिता पर हमला बताया है।

न्यूजलॉन्ड्री के शेखरी ने कहा कि आयकर अधिकारियों ने फोन जब्त कर लिये और हमें अपने वकीलों से भी बात करने की इजाजत नहीं दी। वे दिन के 12.15 में हमारे दफ्तर में आए और रात 12.40 बजे गए। इस दौरान हमें अधिकारियों ने न किसी से बात करने दी और न ही कहीं जाने दिया। इससे पहले जून में भी आयकर विभाग ने इस न्यूज पोर्टल के दफ्तर पर छापा मारा था। उन्होंने कहा कि हम न तो विज्ञापन लेते हैं और न ही किसी कॉरपोरेट घराने से कोई मदद। हम पूरी तरह जनसहयोग पर निर्भर हैं। हम पहले की तरह जनता के पक्ष में पत्रकारिता करते रहेंगे।

न्यूज़क्लिक के संपादक प्रबीर पुरकायस्थ बीमार रहते हैं। उन्हें कुछ देर पर लेटना जरूरी है, लेकिन उन्हें भी लगातार 12 घंटे बैठाकर रखा गया।

गुजरात मॉडल : सात साल में 4 सीएम बदले, क्यों नपे रूपाणी?

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सूरजेवाला ने कहा कि इस विरंकुश सरकार के पास सिर्फ धमकी और दबाव ये दो ही हथियार हैं, जिसकी बदौलत मुख्य मी़डिया, टीवी को अपने अधीन करने के बाद उसका निशाना न्यूजक्लिक और न्यूजलॉन्ड्री जैसे पोर्टल हैं। निरंकुश सत्ता कुछ बी कर ले, सच जीवित रहेगा। यह हमेशा जीतेगा।

Karnal : गजब! पहली बार किसानों के आगे झुकी भाजपा सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*