SaatRang : गुस्सा, तनाव दूर करने के लिए बुद्ध के साथ करें प्रयोग

SaatRang : गुस्सा, तनाव दूर करने के लिए बुद्ध के साथ करें प्रयोग

चारों तरफ नफरत की आंधी है। आदमी के भीतर गुस्सा -तनाव बढ़ रहा। तनाव, अवसाद (डिप्रेशन) दूर करने के लिए बुद्ध-महावीर की करुणा व प्रेम के साथ करें नया प्रयोग।

कुमार अनिल

आज चारों तरफ नफरत की आंधी बह रही है। आदमी के भीतर गुस्सा बढ़ता जा रहा है। गुस्सा तनाव की वजह बन रहा है। तनाव फिर अवसाद (डिप्रेशन) का कारण बन रहा है। इसे दूर करने के लिए किसी ‘चमत्कारी बाबा’ के चक्कर में फंस कर धन और समय बर्बाद न करें, बल्कि बुद्ध और महावीर के विचारों खासकर करुणा और प्रेम के बल पर जीवन की नकारात्मकता दूर करें। पटना ओशो ध्यान केंद्र के स्वामी आनंद सुरेंद्र ने इसके लिए एक अनूठी पहल की है।

प्रेम और करुणा में अपार शक्ति है। बुद्ध-महावीर और हमारे संतों कबीर, नानक और सूफी संतों ने इस पर काफी जोर दिया है। इसी तरह ध्यान में भी अपार शक्ति है। ओशो ने ध्यान की सैकड़ों विधियों को फिर से खोज निकाला। करुणा-प्रेम और ध्यान के बल पर जीवन बदल सकता है। पटना में ओशो ध्यान केंद्र के प्रमुख स्वामी आनंद सुरेंद्र ने जीवन की विसंगतियों, परेशानियों को दूर करने की एक नई प्रयोगशाला शुरू की है। इसका नाम है मिस्ट्री आफ लाइफ।

स्वामी सुरेंद्र आनंद कहते हैं, अधिकांश व्यक्ति, पहले से ही फेसबुक,  वाट्सएप ग्रुप, ट्विटर और ना जाने इस तरह की और कितनी सारी चीजों में अपने आप को व्यस्त किए हुए हैं। फिर एक नए स्वरूप की क्या आवश्यकता है?

सबकुछ होने के बाद भी मनुष्य,  आज अपने को अकेला महसूस कर रहा है। उसके चारों तरफ भीड़ तो है, फिर भी, वह अकेला है। अपने ही बनाए भंवर जाल में अब पूरी मनुष्यता फंस चुकी है। बोध तो है, पर निकलने का मार्ग नहीं दिख रहा है। साइंस का सारा डेवलपमेंट एक सीमा के बाद, आज असहाय प्रतीत हो रहा है। समृद्धि भी एक हद तक के बाद व्यर्थ ही साबित हो रही है। इन सबों के साथ-साथ प्रकृति भी नए-नए स्वरूप में हमारे जीवन को प्रभावित कर रही है।

फिर क्या करें हम?

प्रश्न तो बहुत हैं, पर उत्तर कहां से मिले?

इन्ही सब परिस्थितियों को देखकर मैंने “MYSTERY OF LIFE” की आवश्यकता को महसूस की।

LOVE & COMPASSION (प्रेम और करूणा) ये दो आधार होंगे। Love स्वयं के प्रति और करूणा दूसरों के प्रति।

YOGA & MEDITATION ये दो साधन होंगे।

“MYSTERY OF LIFE” 

यह व्यक्तिगत और निजी बातों का “कभी शाब्दिक”  तथा “कभी मौन” संवाद का एक माध्यम होगा। ओशो ने जो हमे जीवन के प्रति एक समझ दी है, उसे हम कैसे जी सकें, उस पर हमारा पूरा ध्यान होगा।

आज से आप, अपने निजी समस्या या शेयर करने जैसी, कोई भी बात Mystery of Life में आप लिख कर भेज देंगे, फिर उसका उचित और सही उत्तर आपको मिलता रहेगा। और यह बिलकुल निजी होगा।

अपनी समस्या स्वामी सुरेंद्र आनंद को बताने के लिए 9431 884 982 पर वाट्सएप करें।

SaatRang : रमजान पर नफरती मैसेज, विरोध पर किया डिलिट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*