स्कूलों ने छात्रों पर दबाव दिया, कहा- लिखो थैंक्यू मोदी जी

स्कूलों ने छात्रों पर दबाव दिया, कहा- लिखो थैंक्यू मोदी जी

पीएम ने 12 वीं परीक्षा रद्द कर छात्रों से वर्चुअल बात की। फिर स्कूलों ने छात्रों पर दबाव देकर लिखवाया-थैंक्यू मोदी जी। कांग्रेस ने मोदी को कहा प्रचारजीवी।

पिछले कई दिनों से देश में 12 वीं की परीक्षा रद्द करने की मांग उठ रही थी। परीक्षा रद्द करने की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों से वर्चुअल बात की। इसे टीवी और सोशल मीडिया पर खूब प्रचारित किया गया है।

आज कांग्रेस के सोशल मडीया सेल ने बड़ा खुलासा किया। उसने विभिन्न स्कूलों के वाट्सएप ग्रुप के मैसेज सार्वजनिक किए, जिसमें स्कूल प्रबंधन, प्रिंसिपस की तरफ से छात्रों पर दबाव बनाया जा रहा है कि वे प्रधानमंत्री को थैंक्यू बोलें।

कांग्रेस सोशल मीडिया के राष्ट्रीय संयोजक सरल पटेल ने ट्विट करके ऐसे मेसेज जारी किए, जिसमें स्कूल प्रिंसिपल को आदेश दिया गया है कि वे अपने छात्रों से एक मिनट का वीडियो बनवाएं, जिसमें छात्र प्रधानमंत्री को थैंक्यू बोलते नजर आएं। फिर इसे अन्य छात्रों से रिट्वीट करवाएं। सरल पटेल ने प्रधानमंत्री मोदी को प्रोपगैंडाजीवी की संज्ञा दी है।

कई भाजपा समर्थकों ने आपत्ति जताई कि दबाव स्कूल के प्रिंसिपल ने दिया, इसमें प्रधानमंत्री का कोई दोष नहीं। इस पर कई लोगों ने सवाल उठाया कि आखिर स्कूल प्रिंसिपल ने क्यों दबाव बनाया, क्या उनपर विभाग की तरफ से कोई दबाव था? पिर विभाग पर कहां से दबाव आया?

विकास में नीचे से फर्स्ट आया बिहार, तेजस्वी बोले, बधाई नीतीश जी

कांग्रेस के डिजटल कम्यूनिकेशन के संयोजक राजीप पांधी ने कहा-जब राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की पहली प्राथमिकता अपना पीआर ( छवि) है और देश उनके छवि प्रबंधन ( ईमेज मैनेजमेंट) का खामियाजा भुगत रहा है, तो कई लोगों को विश्वास नहीं हुआ था। अब स्कूलों पर दबाव बनाकर छात्रों से मोदी के लिए वीडियो बनवा कर पीएम मोदी ने साबित कर दिया कि राहल गांधी सही थे। कांग्रेस के खुलासे के बाद यह खबर खूब शेयर की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*