TIME : सौ ताकतवर लोगों में मोदी, फिर भी समर्थक नाराज क्यों?

TIME : सौ ताकतवर लोगों में मोदी, फिर भी समर्थक नाराज क्यों?

TIME पत्रिका ने 2021 के सौ प्रभावशाली लोगों की सूची जारी की। इसमें प्रधानमंत्री मोदी और ममता बनर्जी के नाम हैं। आखिर भाजपा नेता खुश क्यों नहीं हैं?

कुमार अनिल

सिर्फ चार हजार फॉलोअर्स वाले अनजान वेबसाइट ब्रिटिश हेरल्ड ने प्रधानमंत्री मोदी को लोकप्रिय बताया, तो सोशल मीडिया में इसका खूब प्रचार किया गया, लेकिन दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित पत्रिका TIME ने हर साल की तरह इस साल भी दुनिया के सौ प्रतिष्ठित लोगों की सूची में प्रधानमंत्री मोदी को शामिल किया, पर भाजपा समर्थक खामोश हैं। आखिर क्यों?

दरअसल टाइम पत्रिका ने सौ ताकतवर लोगों के नाम के साथ उनके बारे में टिप्पणी भी की है कि आखिर वे किस बात के लिए प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में शामिल किए गए हैं।

टाइम पत्रिका ने प्रधानमंत्री मोदी की विशेषता बताते हुए लिखा है कि वे भारत के तीन प्रभावशाली प्रधानमंत्रियों में एक हैं। पहले हैं नेहरू, दूसरी हैं इंदिरा गांधी और तीसरे हैं नरेंद्र मोदी। इतना तक तो ठीक है, लेकिन इसके आगे पत्रिका ने जो लिखा है, वह भाजपा समर्थकों को परेशान करनेवाला है। लिखा है, नेहरू ने देश को लोकतंत्र और धर्मनिरेक्षता का आधार दिया। इंदिरा गांधी के समय बहुत उथल-पुथल थी। युद्ध भी हुए। इन सबका इंदिरा ने सामना किया। प्रधानमंत्री मोदी ने भारत को धर्मनिरपेक्षता से दूर हिंदू राष्ट्रवाद में पहुंचा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने मुस्लिमों के अधिकार को कम कर दिया है। पत्रकारों को जेल में डाल दिया और ऐसे नियम बनाए जिससे मानवाधिकार सहित अन्य अधिकारों के लिए काम करनेवाले एनजीओ का काम करना कठिन हो गया। दुनिया में इंटरनेट बंद करने की जितनी घटनाएं हुई हैं, उसका 70 फीसदी भारत में है।

तो ये है कारण, जिससे भाजपा के किसी प्रमुख नेता टाइम पत्रिका की सूची में नाम आने पर भी इसे सेलिब्रेट नहीं कर रहे। बिहार के सांसद सुशील मोदी ट्विटर पर बहुत सक्रिय हैं, लेकिन वे भी चुप हैं। भाजपा का ऑफिशियल ट्विटर हैंटल भी चुप है।

राजद में उपाध्यक्ष ‘डेकोरेटिव’ पोस्ट नहीं, तेजस्वी ने की बैठक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*