रसिका व आसिफ का शादी कार्ड वाइरल,मचा बवाल

महाराष्ट्र के नासिक में हिंदू महिला और मुस्लिम युवक की कानूनी तौर पर होने वाली शादी का कार्ड वाइरल होने पर बवाल मच गया है।

हिन्दू संगठनों के दबाव पर समारोह को रद्द करना पड़ा है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, इस शादी का कार्ड वॉट्सऐप पर लीक होने के बाद कुछ लोगों ने इसे लव जिहाद का मामला बताते हुए विरोध किया. यह समारोह 18 जुलाई को होना था।

नवविवाहित दंपति परिवारों की मौजूदगी में मई महीने में नासिक अदालत के समक्ष अपनी शादी का पंजीकरण भी करा चुका है.

दुल्हन के पिता स्थानीय रूप से जाने-माने जौहरी हैं। बेटी और उसके साथ पढ़ चुके एक दोस्त ने आसिफ एक-दूसरे से शादी करने की इच्छा जताई तो दोनों परिवार सहमत हो गए. दोनों परिवार एक-दूसरे को बीते कुछ सालों से जानते हैं

एक स्थानीय अदालत इस शादी का पंजीकरण हो वाहक है। दोनों पक्षों ने 18 जुलाई को एक पारिवारिक समारोह करने वाले थे।जिसमें दोनों पक्षों के निकट संबंधी ही शिरकत करने वाले थे.

इस समारोह का निमंत्रण पत्र प्रिंट कराया गया लेकिन यह निमंत्रण पत्र वॉट्सऐप पर लीक हो गया जिसके बाद लड़की के पिता को अजनबियों सहित कई कॉल और मैसेज आए, जिनमें इस समारोह को रद्द करने की मांग की गई.

दुल्हन के पिता पर लगातार समारोह रद्द करने का दबाव बढ़ाया गया।

दुल्हन पक्ष के परिवार के एक सदस्य ने बताया, ‘समुदाय और अन्य लोगों की तरफ से बहुत दबाव पड़ना शुरू हो गया और इसलिए हमने इस शादी समारोह के आयोजन को रद्द करने का फैसला किया.’

इसके बाद दुल्हन के पिता और उनके परिवार के सदस्यों ने स्थानीय सामुदायिक संगठन को एक पत्र भेजकर बताया कि समारोह को रद्द कर दिया गया है.

नासिक के लाड स्वर्णकार संस्था के अध्यक्ष सुनील महल्कर ने कहा, ‘हमें परिवार से एक पत्र मिला और उन्होंने हमें बताया कि शादी को रद्द कर दिया गया है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*