आतंकवादियों के खिलाफ लगने वाली धाराओं के तहत अनंत सिंह को जमींदोज करने की हो गयी है तैयारी

आतंकवादियों के खिलाफ लगने वाली धाराओं के तहत अनंत सिंह को जमींदोज करने की हो गयी है तैयारी

 

विधायक अनंत सिंह के पैतृक आवास से AK47 और ग्रेनेड बरामद होने के बाद पुलिस ने उन पर UAPA ( Unlawful Activities Prevention Act) के तहत  एफआईआर दर्ज की है. अमूमन इस ऐक्ट के तहत आतंकवादियों के खिलाफ  मामले दर्ज होते हैं.

अब तक अनंत सिंह के ऊपर कोई दर्जन भर केस हो चुके हैं, लेकिन यह पहला अवसर है जब उनके खिलाफ संगीन धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ है. कानूनी विशेषज्ञों का कहना है कि UAPA के तहत दर्ज मामले में अभियुक्त को पुलिस अपनी हिरासत में एक महीने तक रख सकती है. साथ ही इस मामले में पुलिस के लिए बाध्यता यह है कि उसे छह महीने की मोहलत होती है ताकि वह चार्जसीट दायर कर सके.

Also Read-  मुकदमों की बौछार से कैसे बरी होते रहे हैं  अनंत सिंह

यहां याद दिला दें कि अनंत सिंह के नदवा स्थित पैतृक आवास से पुलिस ने पिछले दिनों छापामारी कर के AK47 और ग्रेनेड बरामद किया था. उन पर आर्म्स एक्ट और 120 बी के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

मगही व गंवई शैली में अनंत सिंह की बेबाक बोली

अनंत सिंह मोकामा से निर्दलीय विधायक हैं. 2015 के विधानसभा चुनाव से पहले वह जनता दल यू से विधायक थे. 2019 लोकसभा चुनाव के वक्त वह कांग्रेस के करीब आये लेकिन कांग्रेस ने उनके बदल उनकी पत्नी को लोकसभा का टिकट दिया लेकिन वह हार गयीं.

अनंत सिंह के ऊपर पहले से ही हत्या, फिरौती, हिंसा जैसे अनेक मामले दर्ज हैं. अनंत सिंह अनेक मामलों में बरी भी हो गये हैं.  इस नये मामले में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करने के लिए अदालत से परमिशन लिया है. संभावना है कि उन्हें सोमवार के बाद कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है.

तो क्या अनंत सिंह के साम्राज्य का अंत करीब है ?

उधर एडिशनल एसपी लेसी सिंह का कहना है कि अनंत सिंह के खिलाफ नियमों के अनुसार कार्रवाई की जा रही है.

इस मामले में अनंत सिंह का कहना है कि जदयू के रसूखदार नेताओं ने उनके खिलाफ साजिश रची है. उन्होंने जदयू नेता आरसीपी सिंह की बेटी व एडिशनल एसपी लेसी सिंह पर आरोप लगाया कि वह उन्हें फंसाने में लगी हैं.

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*