BJP के सामने JDU ने घुटने टेके: 2019 चुनाव में नीतीश की पार्टी को मिलेगी मात्र 12 सीटें

NDA alliance in bihar for 2019 लोकसभा चुनाव में सीट शेयरिंग पर भाजपा के सामने JD(U) को घुटने टेकने पड़े हैं. 2009 में 25 सीटों पर लड़ने वाले JDU को अब मात्र 12 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए भाजपा ने मजबूर कर दिया है.

Nda alliance in bihar

मीडिया की खबरों में दावा किया जा रहा है कि NDA Alliance ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए सीट शेयरिंग फार्मुले को अंतिम रूप दे दिया है. इसके तहत भाजपा अकेले 20 सीट पर चुनाव लड़ेगी. जबकि जदयू को 12 सीटें दी गयी हैं.
न्यूज18 का दावा है कि भाजपा अपनी जीती हुए 22 सीटों में से मात्र 2 अपनी सहयोगियों के लिए छोड़ने पर अड़ गयी है. वह दो सीटें पटना साहब और दरभंगा की हैं. याद रहे कि पटना साहब से शत्रुघ्न सिन्हा और दरभंगा से कीर्ति आजाद ने जीत हासिल की थी और ये दोनों नेता भाजपा से बगावत कर चुके हैं.

Formula for 2019 NDA alliance in bihar

सीट शेयरिंग फार्मुला के तहत जहां भाजपा अकेले 20 सीट पर लड़ेगी वहीं जदयू 12 पर. जबकि लोकजनशक्ति पार्टी 5 और उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा 2 पर जबकि एक सीट पर रालोसपा के बागी उम्मीदवार अरुण कुमार लड़ सकते हैं.
नौकरशाही डॉट कॉम के पाठकों को याद होगा कि पिछले दिनों जब अमित शाह बिहार दौरे पर आये थे तो एनडीए घटक दलों, खास कर भाजपा जदयू के बीच सीट शेयरिंग के मामेले में काफी बहस हुई थी. जदयू जोर दे रहा था कि सीट शेयरिंग का फार्मुला 2009 के अनुसार तय होगा. 2009 में  जदयू भाजपा साथ लड़ी थी. तब जदयू ने 25 और भाजपा ने 15 सीटों पर चुनाव लड़ा था. जदयू को 21 सीटें मिली थीं. लेकिन 2014 में दोनों दल अलग अलग चुनाव लड़े थे. जदयू तब मात्र 2 सीट जीत पाई थी. जबकि NDA Alliance ने 31 सीटों पर जीत हासिल की थी.
अब 2019 में जदयू, भाजपा से मिल कर चुनाव लड़ेगा. ऐसे में उसे 2009 वाले फार्मुले से चुनाव लड़ने का सपना टूट गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*