कोरोना संकट के बीच जदयू ने तेजस्वी से पूछे चार सवाल

कोरोना संकट के बीच जदयू ने तेजस्वी से पूछे चार सवाल

बिहार विद नीतीश ने तेजस्वी यादव को घेरा है। इस ट्विटर हैंडल से पूछता है बिहार शीर्षक से तेजस्वी से चार सवाल पूछे गए हैं। उन्हें जदयू ने भी रिट्विट किया है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यों को जनता के सामने लाने के उद्देश्य से बने ट्विटर हैंडल बिहार विद नीतीश ने आज बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव से चार कड़े सवाल पूछे हैं।

बिहार विद नीतीश ने तेजस्वी यादव पर हमला करते कहा कि कोरोना से उत्पन्न देशव्यापी संकट की घड़ी में किसी एसी कमरे में बैठकर सोशल मीडिया पर खोखली बयानबाजी की खुराक परोस रहे युवराज तेजस्वी यादव को लेकर बिहार की जनता के मन में कुछ प्रश्न हैं। उसके बाद एक-एक करके चार सवाल पूछे गए हैं।

वैक्सीन की कीमत तय, 1 मई के बाद नोटबंदी जैसी लाइन लगेगी?

पहला सवाल पूछा गया है कि पूछता है बिहार : कोरोना की दूसरी लहर से उत्पन्न संकट की घड़ी में बिहार के नेता प्रतिपक्ष जनता को मदद या जागरूक करने, टीकाकरण में सहयोग करने जैसी कोई जिम्मेवारी क्यों नहीं निभा रहे?

दूसरा सवाल -आपदा के समय हमेशा गायब हो जाने वाले पॉलिटिकल टूरिस्ट आजकल कहां हैं? ट्विटर बबुआ बिहार को बदनाम करने का सोशल मीडिया अभियान कहां से चला रहे हैं?

फ्री वैक्सीन का वादा करनेवाली भाजपा ने बिहार को दिया धोखा

तीसरा सवाल-परिवारवादी पार्टी के युवराज के मन में कभी यह इच्छा क्यों नहीं होती कि आपदा की घड़ी में ओछी राजनीति त्यागकर राज्य सरकार के अच्छे प्रयासों में सहयोग किया जाए?

चौथा सवाल- जंगलराज के दौरान एमबीबीएस की परीक्षा में बिहार में टाप करनेवाली डॉक्टर दीदी आजकल किस शहर या अस्पताल में कोरोना महामारी से पीड़ित मानवता की सेवा कर रही हैं?

बिहार विद नीतीश ने पूछता है बिहार कह कर जो सवाल किए हैं, उस पर अबतक तेजस्वी यादव या राजद की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है। अब देखना है विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव इन चारों सवालों पर क्या जवाब देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*