पैट कमिंस ने हिला देनेवाला किया ट्विट, भारतीय स्टार डूब मरें

पैट कमिंस ने हिला देनेवाला किया ट्विट, भारतीय स्टार डूब मरें

ऑस्टेलियाई क्रिकेटर पैट कमिंस ने भारत के दुख में खुद को शामिल बताते हुए हिला देनेवाला ट्विट किया। लेखिका व पूर्व संपादक ने कहा भारतीय क्रिकेटर्स डूब मरें।

कुमार अनिल

भारत में कोरोना महामारी से हाहाकार मचा है। आदमी के दुख का अंत नहीं। इस अपार दुख को कम करने के प्रयास भी आदमी कर रहा है। कई लोग दिन-रात पीड़ितों की मदद में लगे हैं। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पैट कमिंस से भी यह पीड़ा देखी नहीं गई और उन्होंने आज एक ट्विट करके भारतीय जनता के साथ अपनी एकजुटता दिखाई। पीएम केयर्स फंड में पैसे भी दिए और साथी थिलाड़ियों से अपील भी की।

लेखिका, पत्रकार और हिंदुस्तान की पूर्व संपादक मृणाल पांडे ने ट्विट किया-भारतीय क्रिकेट संस्थान और उसके तमाम अरबपति रथी-माहरथियों के लिए चुल्लू भर पानी…।

पैट कमिंस के एक-एक शब्द भारत के साथ सहानुभूति जताते हैं। उन्होंने कहा-भारत से मुझे प्यार है। यहां के लोग इतने दयालु और गर्मजोशी भरे हैं, जितना मैंने दुनिया में कहीं नहीं देखा। मैं जानता हूं कि आज बड़ी आबादी पर विपदा आई है, जिससे मैं बहुत दुखी हूं।

सऊदी अरब से आ रहा ऑक्सीजन, पर थैंक्स बोलने को राजी नहीं

यहां इस बात पर चर्चा हो रही थी कि जब देश में इतनी बड़ी विपदा आई है, तो क्या इस समय आईपीएल के मैच होना उपयुक्त है? मुझे सलाह दी गई कि भारत की सरकार चाहती है कि मैच होता रहे, क्योंकि लॉकडाउन में लोगों को इससे कुछ घंटे का मनोरंजन मिलता है।

कमिंस ने आगे लिखा है कि खिलाड़ी होने के नाते हमारी पहुंच लाखों लोगों तक है, जिसका उपयोग हम अच्छे के लिए कर सकते हैं। इसी को ध्यान में रखकर मैंने पीएम केयर्स फंड में अपना योगदान भी दिया, खासकर भारत के अस्पतालों के लिए ऑक्सीजन खरीदने के उद्देश्य से।

चुनाव आयोग के अधिकारियों पर चले हत्या का मुकदमा : हाईकोर्ट

मैं आईपीएल के साथी खिलाड़ियों से और भारत से थोड़ा भी संबंध रखनेवालों से अपील करता हूं कि वे मदद में आगे आएं। यह ऐसा समय है, जब आदमी खुद को असहाय महसूस करता है। मैंने अपील करने में देर की। लेकिन मुझे विश्वास है कि अपनी अपील को सार्वजनिक करके हमने अपनी भावनाओं को कार्यरूप देने का एक माध्यम बनाया है।

कमिंस ने कहा कि उन्हें मालूम है कि उनका योगदान नाकाफी है, लेकिन यह किसी के काम आएगा। कमिंस ने 50 हजार अमेरिकी डॉलर दिए हैं।

पत्रकार बरखा दत्त ने कमिंस के ट्विट को शेयर किया। लेखिका-पत्रकार मृणाल पांडे ने एक तरह से भारतीय सुपर स्टार कहे जानेवाले खिलाड़ियों को लानत भेजी है। कुछ तो शर्म करो…। स्टार क्रिकेटर के उन पागल समर्थकों को भी सोचना चाहिए और हो सके, तो उन्हें टैग करके कहना चाहिए कि आपके पास जो बेहिसाब धन है, वह इसी देश का है, दिल बड़ा करिए, वरना चुल्लू भर पानी में डूब मरिए।

दो दिन पहले बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव, जो खुद भी क्रिकेटर रह चुके हैं, उन्होंने भी देश के सेलेब्रिटीज को लानत भेजी थी कि वे अबतक चुप क्यों हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*