कैंसर के खिलाफ देशव्यापी युद्ध का क्या है समृद्ध भारत ट्रस्ट का मास्टर प्लान

कैंसर के खिलाफ देशव्यापी युद्ध का क्या है समृद्ध भारत ट्रस्ट का मास्टर प्लान

अमित कुमार: कैंसरमुक्त भारत अभियान के प्रणेता

 कैंसर के खिलाफ देशव्यापी युद्ध में कूद चुके समृद्ध भारत ट्रस्ट की कहानी जिसने डरना नहीं, लड़ना है के नारे के साथ कैंसर फ्री इंडिया का अभियान छेड़ रखा है.

 

कैंसर जैसी घातक बीमारी से जंग हारने के आम तौर पर दो प्रमुख कारण होते हैं. पहला-कैंसर की पहचान आखिरी स्टेज में होना जिसके कारण लाखों रुपये पानी की तरह बहाने पर भी मरीज बच नहीं पाता. दूसरा- अगर कैंसर की पहचान समय रहते हो भी जाये तो इसका इलाज इतना महंगा है कि हर आदमी इस खर्च को अफोर्ड नहीं कर पाता. नतीजा यह होता है कि ज्यादातर लोग कैंसर से जंग हार जाते हैं.

 

लेकिन कहा जाता है कि तमाम नाउम्मीदियों के बावजूद आशा की कोई न कोई किरण दिख जाती है. नाउम्मीदी के इसी मजधार में उम्मीद की एक किरण के रूप में ‘समृद्ध भारत ट्रस्ट’ आज हमारे सामने है जो सैकड़ों कैंसर मरीजों के लिए कैंसर से जंग जीतने की प्रेरणा और सहयोग दे रहा है.

 

समृद्ध भारत ट्रस्ट ने विगत पांच वर्षों में अनेकों कैंसर पीड़ितों के परिवारों में ऐसी रौशनी फैलाई है जिसके उजाले से सैकड़ों परिवार में नयी सुबह आई है.

Know more about http://samridhabharat.org/

समृद्ध भारत ट्रस्ट अमित कुमार के सपनों का परिणाम है. बिहार के मोकामा के रहने वाले अमित कुमार ने कैंसरमुक्त भारत के सपने को पूरा करने के लिए समृद्ध भारत ट्रस्ट की औपचारिक रूप से 2014 में स्थापना की थी. हालांकि अमित कैंसर मरीजों की सहायता विगत एक दशक से कर रहे हैं.

समृद्ध भारत ट्रस्ट का मुख्यालय दिल्ली में है. यह ट्रस्ट कैंसर पर अनेक स्तर पर काम करता है. जिसके तहत कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता लाना, कैंसर के मरीजों को उचित इलाज के लिए हर संभव कोशिश करना और साथ ही आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को इलाज में आर्थिक सहायता करना.

 

समृद्ध भारत ट्रस्ट की स्थापना की प्रेरणा अमित कुमार को उनकी मां से मिली थी. कभी उनकी मां और चचेरी बहन कैंसर की शिकार हो गयी थीं. बहन तो कैंसर की जंग हार गयीं. लेकिन अमित की जद्दोजहद और कैंसर के प्रति उनकी जागरूकता ने मां नीलम कुमारी को बचा लिया. मां ने जब कैंसर से जंग जीत ली, तभी अमित को प्रेरणा मिली की अन्य कैंसर मरीजों को भी वह बचाने की दिशा में काम करेंगे. तब से अब तक समृद्ध भारत ट्रस्ट कैंसर के विरुद्ध मैदान ए जंग में डटा हुआ है.

 

समृद्ध भारत ट्रस्ट का काम

समृद्ध भारत ट्रस्ट का मुख्यालय दिल्ली में है. यह ट्रस्ट कैंसर पर अनेक स्तर पर काम करता है. जिसके तहत कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता लाना, कैंसर के मरीजों को उचित इलाज के लिए हर संभव कोशिश करना और साथ ही आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को इलाज में आर्थिक सहायता करना. इन सभी पहलुओं पर आज समृद्ध भारत ट्रस्ट लगातार आगे बढ़ता जा रहा है. इस काम के लिए ट्रस्ट के पास टेक्निकल एक्सपर्ट्स और कैंसर विशेषज्ञों की बड़ी टीम है.

यह भी पढ़ें  युथ ऑयकन:बीमार मां से प्रेरणा ले कर कैंसर फ्री इंडिया अभियान में कूद पड़े हैं अमित कुमार

सात राज्यों में फैला समृद्ध भारत ट्रस्ट

समृद्ध भारत ट्रस्ट के चेयरमैन अमित कुमार बताते हैं कि उनका ट्रस्ट कैंसर के प्रति देशव्यापी मुहिम में जुटा है. आज देश के सात राज्यों में समृद्ध भारत ट्रस्ट के कार्यालय हैं. अमित कहते हैं कि उनका सपना है कि देश के हर गांव में समृद्ध भारत ट्रस्ट के वालेंटियर्स हों ताकि एक-एक मरीज तक उनकी पहुंच सुनिश्चित हो सके और उनका समुचित उपचार कराया जा सके. समृद्ध भारत ट्रस्ट ने विगत पांच वर्षों में आर्थिक रूप से कमजोर अनेक मरीजों का इलाज खुद अपने खर्च पर करवाया है. इनमें दर्जनों ऐसे हैं जो आज पूरी तरह से स्वस्थ्य़ जीवन जी रहे हैं.

know more about cancerfree India    http://www.cancerfreeindia.in/

अमित कुमार का मानना है कि कैंसर के प्रति जागरूकता फैला कर कैंसर से जीत हासिल करना सबसे महत्वपूर्ण पक्ष है क्योंकि कैंसर के प्रति जागरूकता ना होने के कारण इस बीमारी का पता तब चल पाता है जब यह घातक स्वरूप धारण कर लेता है. अमित कहते हैं कि हमने कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए कैंसर फ्री इंडिया अभियान चला रखा है. बिहार, झारखंड, पंजाब, कर्नाटक व पश्चिम बंगाल समेत अनेक राज्यों में हमारी टीम दिन-रात इस अभियान में जुटी है.

 

कैंसर फ्री इंडिया रन 2020’

इस अभियान को और मजबूती देने के उद्देश्य से विश्व कैंसर दिवस यानी 4 फरवरी 2020 को  झारखंड की राजधानी रांची में ‘कैंसर फ्री इंडिया रन 2020’ का आयोजन किया जा रहा है. इस अभियान में 20 हजार से ज्यादा लोग शामिल होंगे. इस रन में देश-विदेश की अनेक नाचीन हस्तियां भी शामिल होंगी.

डरना नहीं, लड़ना है

अमित कुमार कहते हैं कि हमें कैंसर से डरना नहीं, लड़ना है और उससे जीतना है. वह कहते हैं कि हमारा सपना है भारत को कैंसरमुक्त बनाना. यह तभी संभव है जब हम इसके प्रति लोगों को जागरूक करें.

 

कैंसर के प्रति समृद्ध भारत ट्रस्ट के काम को अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिलने लगी है. समृद्ध भारत ट्रस्ट और इंग्लैंड की ब्रेवो फर्मास्युटिकल्स कम्पनी  आपसी सहमति की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और संभावना है कि जल्द ही दोनों मिल कर कैंसर पर संयुक्त रूप से जल्द ही काम शुरू करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*