मंदिर भी कोरोना मरीजों की मदद में, परिसर में बनाया अस्पताल

मंदिर भी कोरोना मरीजों की मदद में, परिसर में बनाया अस्पताल

कोविड की दूसरी भयावह लहर में मदद के लिए अब मंदिर भी सामने आए। कई संगठन पहले ही मदद में उतर चुके हैं। इस बीच आज दिनभर #WhereIsPM ट्रेंड करता रहा।

आज पहली बार मुंबई के एक प्रतिष्ठित और बड़े मंदिर ने कोविड मरीजों के लिए अपना परिसार खोल दिया। परिसर में ही मरीजों के लिए अस्पताल बना दिया गया है। यहां सैकड़ों की संख्या में बेड लगे हैं। मंदिर प्रबंधन ने कहा है कि यहां मरीजों के इलाज में होनेवाला सारा खर्च भी मंदिर प्रबंधन उठाएगा।

राजद के राजनीतिक रणनीतिकार संजय यादव ने ट्विट किया-मुम्बई के श्री स्वामीनारायण मंदिर से भी सुखद तस्वीर सामने आई है। मंदिर को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए एक अस्पताल में बदल दिया गया है। मुख्य महंत ने बताया कि इस अस्पताल में इलाज करवाने वाले सभी मरीजो के इलाज का खर्च भी मंदिर ट्रस्ट कमेटी ही उठाएगी!

सावधान रहिए, कोरोना की नकली दवाएं भी बाजार में

कोविड-19 की दसरी लहर या कोविड-2 की भयावता से पूरा देश हिल गया है। कई रिपोर्ट ऐसी भी आ रही है कि कोविड की यह नई वेराइटी हवा में फैलती है। हालांकि इसे अबतक डब्ल्यूएचओ ने नहीं माना है।

लोगों का मानना है कि बिहार के मंदिरों को भी संकट के समय लोगों की मदद के लिए आगे आना चाहिए।

चुनाव पूर्व भाजपा प्रत्याशी के केंद्रीय बलों के साथ लंच पर बवाल

उधर, सरकार की तैयारी का दावा खोखला साबित हो रहा है। आज सोशल मीडिया पर पहली बार व्हेयर इज पीएम ट्रेंड करता रहा। कांग्रेस के गौरव पांधी ने एक पोस्टर जारी किया है, जिसमें लिखा है गुमशुदा की तलाश। इस हैशटैग पर लगभग 90 हजार ट्विट हो चुके हैं।

इस बीच राजद ने बिहार सरकार की अव्यवस्था पर फिर हमला बोला है। राजद ने कहा कि बिहार सरकार ने तेजस्वी यादव के एक साल पहले दिए गए सुझावों पर आजतक अमल नहीं किया। सरकार ने पिछले एक साल में स्वास्थ्य के क्षेत्र में आधारभूत ढांचे के विकास की उपेक्षा की, जिसका नतीजा आज आम लोग भुगत रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*