मोदी सरकार ने विख्यात 8 कलाकारों को किया बेघर, नोटिस जारी

मोदी सरकार ने विख्यात 8 कलाकारों को किया बेघर, नोटिस जारी

मोदी सरकार ने विख्यात और पद्म सम्मान पा चुके 8 कलाकारों को दिल्ली में आवंटित घर खाली करने का नोटिस दिया है। इनमें बिरजू महाराज का परिवार भी है।

पद्मश्री से सम्मानित 90 वर्षीय ओडिशी नर्तक गुरु मायाधर राउत इस तरह बाहर किए गए। फोटो-द हिंदू से साभार

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने देश-विदेश में विख्यात और पद्म पुरस्कार से सम्मानित आठ संगीतज्ञ, नर्तक, गायकों को दिल्ली में आवंटित आवास खाली करने का नोटिस जारी कर दिया है। इनमें पद्मश्री से सम्मानित 90 वर्षीय ओडिशी नर्तक गुरु मायाधर राउत भी शामिल है। द हिंदू ने एक तस्वीर जारी किया है, जिसमें उनके घर का सारा सामान बाहर कर दिया गया है। कई लोगों ने कहा कि घर खाली कराना ही था, तो इस तरह अपमानित करके निकालना अनुचित है। कई लोगों ने यह भी कहा कि इनके कारण हमारे देश की प्रतिष्ठा बढ़ी, इन्हें घर से बेघर करना गलत निर्णय है।

जिन लोगों को 2 मई तक आवास खाली करने का नोटिस दिया गया है, उनमें प्रसिद्ध नर्तक दिवंगत बिरजू महाराज का परिवार भी शामिल है। मोदी सरकार ने 2020 में ही इन कलाकारों को आवास खाली करने का निर्देश दिया था, लेकिन दिवंगत बिरजू महाराज का परिवार व कुछ अन्य कलाकार कोर्ट चले गए। इन कलाकारों को कोर्ट की शरण में जाने पर मजबूर होना ही अपने आप में अफसोसजनक है। वहां कलाकारों की अपील खारिज हो गई। वे ऊपर के कोर्ट में जा पाते इससे पहले ही उन्हें बेघर करने की तैयारी शुरू हो गई है। जिन कलाकारों को बेघर बोना पड़ेगा, उनमें जतिन दास और संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी भी शामिल हैंं।

मायाधर राउत की बेटी मधुमिता राउत भी स्वयं एक कलाकार हैं। उन्होंने द हिंदू से कहा कि उनका परिवार पिता के एक शिष्य के घर में शरण लेगा। लेखिका और हिंदुस्तान की संपादक रह चुकीं मृणाल पांडे ने कहा-भारत की सदियों पुरानी कला संस्कृति की श्रेष्ठता पर देश विदेश में लगातार छाती ठोंकी जाती है। उसके बल पर हम ख़ुद को विश्वगुरु पद का हकदार भी मानते है । लेकिन गुरु शिष्य परंपरा के प्रतीक बुज़ुर्ग गुरुओं के साथ जीवन के अंतिम चरण में इस तरह का सुलूक हम सबके लिए गहरी शर्म की बात है।

हिंदू योद्धा संगठन ने मस्जिद में फेंका मांस, दंगे की साजिश विफल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*